18 साल होते ही घर पहुंच जाएगा वोटर कार्ड, ऑनलाइन बदली जा सकेंगी जानकारियां

देश में युवा जैसे ही 18 साल के होंगे, उनका नाम खुद ही उनके इलाके की वोटर लिस्ट में जुड़ जाएगा। इसके बाद वोटर कार्ड उनके घर भी पहुंच जाएगा। इसके लिए न तो बूथ पर जाना पड़ेगा और न ही निर्वाचन दफ्तर के चक्कर लगाने होंगे। वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने के लिए फॉर्म भी नहीं भरना पड़ेगा। यह आधार कार्ड के जरिए होगा। केंद्रीय निर्वाचन आयोग आधार कार्ड को वोटर लिस्ट से लिंक करने का सिस्टम बना रहा है। यह 15 अगस्त तक बनकर तैयार हो जाएगा। 
ऑनलाइन ही बदलवा सकेंगे फोन नंबर और पता
आधार कार्ड में दिया आपका फोन नंबर या पता बदल गया है, तो उसे बदलवाने के लिए यूआईडीएआई की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकेगा। इस सिस्टम में सबसे पहले उन लोगों के नाम जोड़े जाएंगे, जिनके आधार कार्ड बन चुके हैं। 15 अगस्त के बाद जैसे ही किसी का आधार कार्ड बनेगा, वह खुद ही आयोग के सिस्टम से लिंक हो जाएगा। इससे लोगों की वे सारी दिक्कतें दूर हो जाएंगी जो उन्हें वोटर कार्ड बनवाने के दौरान उठानी पड़ती हैं।
ऐसे जुड़ेगा नाम
>कम उम्र के बच्चे जिनका आधार कार्ड बना हुआ है, 18 साल के होते ही वे वोटर लिस्ट में आ जाएंगे।
>उन्हें मोबाइल पर इसका कन्फर्मेशन मैसेज मिल जाएगा।
Dainik bhaskar, jhon rajesh pol , 2/3/15

માસવાઇઝ પોસ્ટ